House wiring in Hindi-घर की वायरिंग

House wiring in Hindi - घर की वायरिंग

House wiring in Hindi-घर की वायरिंग

House wiring in Hindi - वर्तमान युग में विद्युत का उपभोग सर्वाधिक किया जाता है, आज हमारा जीवन विद्युत के बिना संभव नहीं है, विद्युत उत्पादन केंद्र से ट्रांसमिशन के माध्यम से विद्युत को सब स्टेशन पर लाते हैं उसके पश्चात उसे डिस्ट्रीब्यूशन के माध्यम से उपभोक्ता तक विद्युत को पहुंचाते हैं 
उपभोक्ता द्वारा अपनी सुविधा के अनुसार विद्युत को हर कमरे बाथरूम किचन या अन्य जगहों पर पहुंचाता है 
विद्युत का घर के अंदर सुव्यवस्थित तरीके से लोड तक पहुंचाने के माध्यम तथा व्यवस्था को विद्युत वायरिंग (Electrical wiring in Hindi) कहते हैं 
विद्युत वायरिंग आधुनिक समय में बहुत ही महत्वपूर्ण तथा आवश्यक है, इस के संदर्भ में भारतीय विद्युत नियम बनाए गए हैं जिसके अंतर्गत हम विद्युत फायरिंग करते हैं, 
नियमानुसार विद्युत वायरिंग को करने से हमें किसी प्रकार की दुर्घटना या वायरिंग में खामियां उत्पन्न नहीं होती हैं 

विद्युत वायरिंग की बहुत सारी बधाइयां परंतु सर्किट के आधार पर विद्युत वायरिंग मुख्यता दो प्रकार की होती हैं- 


  1. ट्री प्रणाली (Tree System)
  2. डिसटीब्यूशन बॉक्स प्रणाली (Distribution System) 

घर की वायरिंग (Home wiring in Hindi) करते समय हमें निम्न बातों का महत्वपूर्ण रूप से ध्यान रखना चाहिए- 


  • घर की वायरिंग (Home wiring in Hindi) करते समय सबसे महत्वपूर्ण सुरक्षा के रूप से ऐसे केवल का प्रयोग करना चाहिए जो नमी रोधी, तथा अग्नि रोधी होना चाहिए 
  • सदैव आई एस आई मार्क के केवल तथा अन्य एसेसरीज इस्तेमाल करने चाहिए 
  • निर्धारित लोड के लिए उचित प्रकार की रेटिंग वाले केबल का प्रयोग करना चाहिए 
  • किसी उप सर्किट को सप्लाई देने के लिए तार को कहीं बीच से काटकर टेपिंग नहीं निकालनी चाहिए 
  • घरेलू वायरिंग (House wiring in Hindi) ऐसी होनी चाहिए कि वह देखने में सुंदर तथा साफ हो 
  • घरेलू वायरिंग (House wiring in Hindi) ऐसी होनी चाहिए कि उसे अपनी सुविधा के अनुसार उसे आसानी से परिवर्तित किया जा सके 
  • घरेलू वायरिंग (House wiring in Hindi) ट्यूबलाइट तथा पंखे को को सप्लाई देने के लिए सदैव सीलिंग रोज का प्रयोग करना चाहिए 
  • मुख्य रूप से घरेलू वायरिंग (House wiring in Hindi) में सबसे ज्यादा महत्वपूर्ण विद्युत आघात से बचने के लिए अर्थ वायर सभी वायरिंग में सभी स्थानों पर ले जाना चाहिए 
  • घरेलू वायरिंग (House wiring in Hindi) में धात्विक कवर या फ्रीज, टीवी, हीटर, प्रेस इत्यादि को 3 पिन के माध्यम से सप्लाई देनी चाहिए, तथा अर्थ वायर सदैव अर्थ पिन से जुड़ा होना चाहिए 
  • घरेलू वायरिंग (House wiring in Hindi) में अर्थ रेजिस्टेंस को न्यूनतम रखने के लिए अर्थिंग वाले स्थान को नमी से युक्त होना चाहिए 
  • घरेलू वायरिंग (House wiring in Hindi) करते समय सभी कनेक्शन मजबूती से एवं टाइट जुड़ा होना चाहिए, जिससे कि इस पार्किंग की संभावना से बचा जा सके, तथा आग लगने की नौबत ना आए 
  • तारों के जोड़ को पीवीसी टेप के द्वारा ढंग देना चाहिए
  • घरेलू वायरिंग (House wiring in Hindi), लाइसेंस धारी व्यक्ति से ही कराना चाहिए, अन्यथा बाद में वारिंग में समस्या आ सकती हैं 
  • घरेलू वायरिंग (House wiring in Hindi) इस प्रकार होना चाहिए कि किसी अन्य कमरे या फ्लोर की सप्लाई को बिना डिस्टर्ब यह आसानी से उसका अनुरक्षण हो सके 
  • घरेलू वायरिंग (House wiring in Hindi) में फ्यूज की रेटिंग उस सर्किट में लगे सभी लोड को जोड़कर ही निर्धारित करनी चाहिए 
  • विद्युत सांप से बचने के लिए आधुनिक प्रकार के फ्यूज का प्रयोग करना चाहिए

ELECTRICAL WIRING ONLINE TEST IN HINDI

Post a Comment

0 Comments